Menu - Pages

Tuesday, March 17, 2020

तलाश


कड़कती धूप में फिर रहा
बदहवास सा, बौखलाया हुआ
अंजान मुसाफ़िर आवारा सा
एक शख़्सियत की तलाश में

Copyright Renu Vyas

No comments:

Post a Comment